Saturday, 17 November 2012

'किस्सा'

गुजरते वक़्त के साथ साथ किसीकी ज़िन्दगी भी
एक अंतिम राहगुजर  से  गुजरेगी 
हर नए किस्से कहानीयों  में 
वो  जिंदगी भी अपनी याद  जाएगी। 
      अपना प्यारभरा एक  माहौल और 
      किसीके नाम प्यारभरा पैगाम छोड़कर ,
      करके दुवाओं भरा आखरी सलाम 
      वो अतीत का एक पन्ना बन जाएगी। 
सिर्फ एक पन्ना !जिसे एक अलमारी में 
बंद कर दिया जाएगा 
पुराने किस्से की तरह !
और फिर सब कुछ खत्म हो जायेगा !!!

Post a Comment